समस्तीपुर.कॉम/ किरण कुमारी

समस्तीपुर। जदयू जिलाध्यक्ष सह पूर्व सांसद अश्वमेध देवी के भाई सह सीएसपी संचालक सुनील कुमार की लूट के दौरान हत्या मामले का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। विशेष टीम ने चार शातिर को इस मामले में गिरफ्तार किया है। आरोपितों की पहचान उजियारपुर थाना के चांदचौर डीह निवासी शंभू कुमार झा के पुत्र राहुल झा, चांदचौर याजी टोल निवासी मनोज झा के पुत्र दीपक झा, दलसिंहसराय थाना के केवटा गांव निवासी महेश राय का पुत्र राहुल कुमार और राम सागर झा के पुत्र शंभू कुमार झा के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपितों के पास से घटना में प्रयुक्त एक बाइक, दो देसी कट्टा, तीन कारतूस, 20 हजार नकद, दो मोबाइल और मृतक का पीठ वाला बैग, पैन कार्ड, आधार कार्ड और सेंट्रल बैंक आफ इंडिया का चेकबुक भी बरामद हुआ है। इसके अलावा घटना में प्रयुक्त बाइक को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। सदर डीएसपी प्रितिश कुमार ने बताया कि पकड़े गए सभी आरोपित एक संगठित गिरोह के सदस्य हैं। पूछताछ के दौरान सभी ने घटना में संलिप्तता स्वीकार की है। बताया कि घटना के दिन 7 जून को करीब 9.30 बजे ही सभी उजियारपुर थाना क्षेत्र स्थित गाछी में इकट्ठा हुए थे। बदमाशों ने पूर्व से रची गई साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया और वहां से भाग निकले। बताया कि घटना में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एक विशेष टीम का गठन किया गया था। तकनीकी अनुसंधान करते हुए दर्जनों स्थानों पर सीसी कैमरे का फुटेज का बारिक ढ़ग से निरीक्षण किया गया। उसमें पता चला कि दो बाइक पर सवार पांच बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया। इसमें से चार बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपितों ने अपने अन्य सहयोगियों के नाम का भी खुलासा किया है। सदर डीएसपी ने कहा कि गिरफ्तार आरोपितों द्वारा वर्ष 2019 में दलसिंहसराय में डकैती की घटना को अंजाम दिया गया था। बता दें कि मृतक सुनील कुमार सेंट्रल बैंक आफ इंडिया के सीएसपी संचालक थे। घटना के दिन वे बैंक से 3 लाख 60 हजार रुपये की निकासी कर घर लौट रहे थे। इसी क्रम में झखड़ा गांव के निकट घात लगाए बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। साथ ही बैग में रखे रुपये भी लूट लिए। छापेमारी दल में सदर अंचल निरीक्षक विक्रम आचार्य, सरायरंजन थानाध्यक्ष राजा, बंगरा थानाध्यक्ष संजीव कुमार, मुसरीघरारी थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह, उजियारपुर थानाध्यक्ष विश्वजीत कुमार, डीआइयू प्रभारी संदीप पाल शामिल रहे।